धार्मिक पुस्तकें

Showing all 2 results

  • Mahabharat granthakar

    0 out of 5
    Original price was: ₹3,620.00.Current price is: ₹3,300.00.
    1. महाभारत ग्रन्थाकार—महाभारत भारतीय संस्कृतिका, आर्य सनातन-धर्मका अद्भुत महाग्रन्थ है। इसे ‘पंचम वेद’ भी कहा जाता है। इस महाग्रन्थमें उपनिषदोंका सार, इतिहास, पुराणोंका उन्मेष, निमेष, चातुर्वर्णका विधान, पुराणोंका आशय, ग्रह, नक्षत्र, तारा आदिका परिमाण, तीर्थों, पुण्य देशों, नदियों, पर्वतों, समुद्रों तथा वनोंका वर्णन होनेके कारण यह अनन्त गूढ़, गुह्य रत्नोंका भण्डार है। सबसे महत्त्वपूर्ण बात यह है कि इसमें निखिल रसामृत-सिन्धु, अनन्त प्रेमाधार भगवान् श्रीकृष्णके गुण-गौरवका गान है। छ: खण्डोंमें प्रकाशित यह ग्रन्थ-रत्न हिन्दू संस्कृृतिके अध्येताओंहेतु मननीय और संग्रहणीय है। सचित्र, सजिल्द।
    Quick View
  • Raspanchaadhiyayi Rasleela ebook

    0 out of 5
    Original price was: ₹151.00.Current price is: ₹121.00.

    इस कृति की सबसे बड़ी विशेषता यह है गोपीगीत को उसके मूल छंद कनकमंजरी में उसी प्रकार आबद्ध किया गया है जिस प्रकार मूल गोपीगीत है । इसकी दो विशेष्ताएं है एक प्रत्येक चरण के प्रथम और सातवां वर्ण एक समान है और दूसरा प्रत्येक पद के दूसरा वर्ण एक समान है । शिल्पगत इन विशेषताओं को समेटते हुए इसी शिल्प के साथ इस गोपिकागीत की रचना की गई है । इसी प्रकार चौथे और पांचवें अध्याय को भी मूल छंद में ही अनुदित किया गया है ।

    Quick View

This will close in 0 seconds

X